Categories
कविता

One step more..हौसला

“अंत का दौर नहीं आया

अभी तो शुरुआत है अंत का दौर नहीं आया,
वो कौन है जो गमों से लड़कर, खुशियाँ नहीं पाया,
अगर मुझमें है तो तुममें भी ज़रूर होगा,
जिसे ग़मों से लड़कर ही हारना मंजूर होगा,
जिसे ग़मों को हराकर ताड़ना मंजूर होगा,
ग़मों से जो डर जाये जब मुझमें नहीं तो तुममें भी नहीं,
हसरतों से मंज़िल भी झुका दे वो हौसला है तुमनें पाया।

कोई नहीं ऐसा जिसे खुशियों ने नहीं लुभाया,
कोई नहीं ऐसा जिसे हंसना न रास आया,
यह ग़म बड़ा ज़िद्दी है आता ज़ुरूर है,
कहीं ना कहीं घर अपना, बनाता ज़ुरूर है,
उस ख़ाली जगह को भी खुशियों से भरना होगा,
ग़म आये जब, उसे, फिर आने से डरना होगा,
बस खुशियों की आस में तुम सुकूँ की नींद मत सो जाओ,
यही वक़्त है जब थोड़ी खुशियों के लिए भी लड़ना होगा,
अभी तो शुरुआत है अंत का दौर नहीं आया,
वो कौन है जो गमों से लड़कर, खुशियाँ नहीं पाया।

-vj

छवि श्रेय: इंटरनेट

Translated:

It is just the beginning of life, the end has not come yet.
There is no one who did not get happiness by fighting with sorrow.
If i have that ability to fight then you also have the same.
Whom it would not be acceptable the happiness by fighting with sorrows.
Whom it would not be acceptable the happiness by beating with sorrows.
Who is scared of sorrow when it’s not in me then not in you.
You have got that strength so that you can beat the target.

No one in this earth who don’t know the wealth of happiness.
No one in the earth who don’t want the company of happiness.
This sorrow it too much stubborn always come when it get chance.
It makes home where it gets place inside you.
You have to fill that place with happiness. So that when sorrow come it would get no place to stay and the sorrow feel the sadness.
Just don’t sleep in the hope of happiness.
This is the time when you have to fight for some happiness too.

By साधक

Poetries | Poems | Ghazals | Sher-o-shyaries

10 replies on “One step more..हौसला”

“हसरतों से मंज़िल भी झुका दे वो हौसला है तुमनें पाया।”

“यही वक़्त है जब थोड़ी खुशियों के लिए भी लड़ना होगा,
अभी तो शुरुआत है अंत का दौर नहीं आया,
वो कौन है जो गमों से लड़कर, खुशियाँ नहीं पाया।”

बेहद खूबसूरत पंक्तियां।

Liked by 2 people

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s